छत्तीसगढ़ में अनाजों के बाद अब एमएसपी पर दालों की होगी खरीदी, राज्य सरकार ने किसानों को दी एक और राहत

 

नई दिल्ली।  छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य के किसानों के हित में एक बड़ा फैसला लिया है। एमएसपी पर अनाजों की सफलता पूर्वक खरीदी के बाद राज्य में पहली बार न्यूनतम समर्थन मूल्य पर दालों की खरीदी होगी।
अक्टूबर से मार्च 2023 तक राज्य सरकार 25 मंडियों में किसानों से दाल खरीदेगी, इसके लिए पहले से पंजीयन कराना होगा। राज्य सरकार ने अरहर/उड़द के लिए 6600 रुपए प्रति क्विंटल तथा मूंग के लिए 7755 रुपए प्रति क्विंटल की दर तय की गयी है।
छत्तीसगढ़ सरकार ने हाल ही में 28 जुलाई से 4 रुपये लीटर गोमूत्र खरीदी की घोषणा की है। अब एमएसपी पर दाल खरीदी की घोषणा को किसानों की आय बढ़ाने की दिशा में एक बड़ा कदम माना जा रहा है। अब छत्तीसगढ़ के किसानों को अब दालों का भी मिलेगा उचित मूल्य मिल सकेगा।
उड़द एवं मूंग की खरीदी 17 अक्टूबर 2022 से 16 दिसम्बर 2022 तक तथा अरहर की खरीदी 13 मार्च 2023 से 12 मई 2023 तक की जाएगी।
उपार्जन केन्द्र पर आवश्यक भौतिक संसाधनों, उपकरणों एवं मानव संसाधन की व्यवस्था मार्कफेड द्वारा की जाएगी। यूनिफाईड फार्मर पोर्टल पर कृषक का पंजीयन कर उपलब्ध डाटा नाफेड को दिया जाएगा। नाफेड द्वारा उक्त डाटा ई-समृद्धि पोर्टल में उपार्जन हेतु इंटीग्रेड किया जाएगा एवं चयनित उपार्जन केन्द्रों से उक्त कृषकों की टैगिंग की जाएगी।
राज्य में खरीफ सीजन 2022 में राज्य में एक लाख 40 हजार हेक्टेयर में अरहर, 22 हजार हेक्टेयर में मूंग तथा एक लाख 75 हजार हेक्टेयर में उड़द की खेती का लक्ष्य है। कृषि विभाग द्वारा राज्य में 94,500 मेट्रिक टन अरहर, 12,100 मेट्रिक टन मूंग तथा 70,000 मेट्रिक टन उड़द का उत्पादन अनुमानित है।