आज दिनभर के खबर ल अपन गुरतुर छत्तीसगढ़ी भाखा म पढ़व

नगरीय निकाय चुनाव

छत्तीसगढ़ राज्य निर्वाचन आयोग ह नगरीय निकाय चुनाव के तारीख के घोषणा कर देहे। प्रदेश के दस जिला के पंद्रा शहर म निकाय चुनाव बर मतदान बीस दिसंबर के होही। इही दिन सोला ठिन शहर के सतरा वार्ड म घलो उपचुनई कराय जाही। जिला प्रशासन ह चुनाव के अधिसूचना सत्ताईस नवंबर के जारी करही अउ इही दिन ले नामांकन भरे के काम शुरू हो जाही। तीन दिसंबर तक नामांकन भरे जा सकथे। छै दिसंबर के नामांकन वापसी के बाद चुनाव चिन्हा दे जाही। तेइस दिसंबर के चुनाव परिणाम घोषित कर दे जाही। ए बार घलो चुनाव बैलट पेपर ले होही।
राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर रामसिंह ह आज रायपुर म पत्रकार वार्ता म बताइन कि चुनाव वाले शहर अउ वार्ड मन म तुरते आचार संहिता लागू होगे हे। ओमन बताइन कि चार नगर निगम, पांच नगर पालिका, चार ठिन नगर पंचायत के संगेसंग, सतरा वार्ड म उपचुनई होही। आयोग डहार ले मतदाता मन बर  फोटो वाले निर्वाचक नामावली तियार करे गेहे। ए बार घलो उम्मीदवार मन अपन नामांकन आनलाइन जमा कर सकथे।
आयोग डहार ले जारी निर्देश के मुताबिक उम्मीदवार मन ल नाम निर्देशन पत्र दाखिल करे ल लेके मतगणना तक कोविड गाइडलाइन के कड़ाई ले पालन करे बर पड़ही।
जानबा के मुताबिक चार नगरपालिक निगम, बीरगांव, भिलाई, भिलाई-चरोदा, अउ रिसाली, पांच ठिन नगरपालिका परिषद, सारंगगढ़, बैकुण्ठपुर, शिवपुर चरचा, जामुल, खैरागढ़ के संगेसंग छै ठिन नगर पंचायत, प्रेमनगर, मारो, नरहरपुर, कोंटा, भैरमगढ़ अउ भोपालपट्टनम म चुनाव होवइया हे।


केंद्रीय मंत्रिमंडल मंजूरी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ह प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना ल अउ चार महीना बढ़ाय के मंजूरी दे देहे। सूचना अउ प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर हह आज नई दिल्ली म पत्रकार मनले गोठबात करत बताइन कि योजना के पांचवां चरण म एला मार्च दू हजार बाईस तक बढ़ाय के फैसला ले गेहे।
श्री ठाकुर ह बताइन कि तीनों कृषि कानून ल निरस्त करे के औपचारिकता पूरा कर ले गेहे। संसद के अवइया शीतकालिन सत्र म एला निरस्त कराना सरकार के प्राथमिकता हावय।


केंद्र आवास योजना राशि वापस

केंद्र सरकार ह चालू वित्तीय बछर बर छत्तीसगढ़ ल प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत देगे पइसा ल वापिस ले लेहे। केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय डहार ले प्रदेश सरकार ल लिखे चिट्ठी म केहे गेहे कि बार-बार करे गे विनती अउ दिशा-निर्देश के बाद घलो राज्य सरकार ह बछर दू हजार उन्नीस ले अब तक ए योजना के तहत अपन अंशदान के राशि ल जारी नइ करे हे।
जानबा के मुताबिक प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत केंद्र सरकार डहार ले साठ प्रतिशत राशि दे जाथे अउ राज्य सरकार ह चालीस प्रतिशत राशि लगाथे। पत्र म यहू केहे गेहे कि ए योजना ल चलाय बर राखे गे मापदंड जइसे नवा आवास के पंजीकरण लाभार्थी मन ल आवास के आवंटन अउ पाछू आवंटित घर मन ल पूरा करे जइसन मापदंड के मामला म छत्तीसगढ़ सरकार ह बने ढंग ले काम नइ करत हे। एला देखत केंद्र सरकार ह छत्तीसगढ़ ल ए वित्तीय बछर बर बांटे गे करीबन सात लाख बयासी हजार घर मन के लक्ष्य ल तुरते प्रभाव ले वापिस ले लेहे।  


कृषि मंत्री रासायनिक खाद

कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ह केंद्र सरकार ले छत्तीसगढ़ म रासायनिक खातु के मांग ल देखत सही ढंग ले बेवस्था करे के विनती करे हे। ओमन केंद्रीय रसायन अउ उर्वरक मंत्री डॅाक्टर मनसुख मांडविया केसंग होय वचुअर्ल बइठका म राज्य ल इही महीना डीएपी खातु के दू रेक अउ एनपीके खातु के एक ठिन रेक तुरते देवाय के अपील करे हे। ए मांग उपर केंद्रीय मंत्री ह जल्दी बेवस्था करे के आश्वासन देहे।


मुख्यमंत्री – बस्तर

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ह आज जगदलपुर म आदिवासी क्षेत्र मन बर  चिराग परियोजना के शुभारंभ करीन। ए योजना के उद्देश्य किसान मनके मुनाफा ल बढ़ाना अउ गांव मन म पुष्टई वाले भोजन के बेवस्था करना हे।
ए परियोजना के माध्यम ले खेती-किसानी म विकास के नवा अउ विकसित तरीका ल बढ़ावा दे जाही। ए परियोजना वर्ड बैंक अउ संयुक्त राष्ट्र संघ के कृषि विकास बर बनाये गे संस्था-आईएफएडी के आर्थिक मदद ले राज्य सरकार डहार ले चलाये जाही। एला बस्तर, बीजापुर, दंतेवाड़ा, कांकेर, कोंडागांव, नारायणपुर, सुकमा, मुंगेली, बलौदाबाजार, बलरामपुर, जशपुर, कोरिया, सूरजपुर अउ सरगुजा जिला के आदिवासी विकासखंड मन म लागू करे जाही।
ए मउका म मुख्यमंत्री ह शासकीय महिला पॉलिटेक्निक धरमपुरा के नाव ल धरमुमाहरा अउ बस्तर हाइस्कूल के नाव ल जगतुमाहरा के नाव म करे के घोषणा करीन। एखर अलावा मुख्यमंत्री ह अपन बस्तर प्रवास के दउरान धरमपुरा म शासकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज परिसर म बने नवा ऑफिस, स्मार्ट क्लास, स्मार्ट लैब के घलो शुभारंभ करीन। त उंहें मुख्यमंत्री ह आज जगदलपुर म आस्था निकुंज सियान वाटिका म फिजियोथेरेपी केंद्र के शुभारंभ करीन।
उंहें मुख्यमंत्री ह बस्तर ल वैलनेस टूरिज्म के सुविधा देबर थिंक-बी स्टार्टअप सेंटर के शुभारंभ करीन। ए सेंटर के माध्यम ले बस्तर अंचल म जम्मों प्रमुख पर्यटन वाले जगा म पर्यटक मन ल योगा-प्राणायाम, ध्यान, आयुर्वेदिक अउ प्राकृतिक उपचार के सुविधा दे जाही।

 
मुख्यमंत्री सांसद पत्र

मुख्यमंत्री ह किसान अउ उसना मिल मजदूर मनके मुद्दा ल लेके राज्य के जम्मों सोला सांसद मन ल चिट्ठी लिखे हे । चिट्ठी म अपील करे हे कि ओमन लोकसभा अउ राज्यसभा म किसान उसना मिल मजूर के संगेसंग राज्य के लोगन मनके जरूरी मुद्दा ल पहिली उठावंय ।
मुख्यमंत्री ह सांसद मन ल अपन कोति ले छत्तीसगढ़ ले जुड़े जरूरी विसय ल लेके केंद्रीय वित्त मंत्री ल लिखे चिट्ठी के बारे म घलो जानबा दीन।


वित्त मंत्रालय-कर हस्तांतरण

केंद्रीय वित्त मंत्रालय ह राज्य सरकार मन ल कर हस्तांतरण के दू किस्त के रूप म पंचानवे हजार ब्यासी करोड़ रूपिया के राशि जारी कर देहे। छत्तीसगढ़ ल घलो अपन हिस्सा के रूप म तीन हजार दू सौ उनचालीस करोड़ चौवन लाख रूपिया मिलही। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन ह पाछू पंद्रह नवंबर के मुख्यमंत्री, वित्तमंत्री अउ उप राज्यपाल के संग होय एक ठिन वर्चुअल बइठका के बाद ये राशि जारी करे गेहे।


खारून नदी-जल गुणवत्ता

राजधानी रायपुर के महादेवघाट म प्रदूषण के सेती खारून नदिया के पानी म पाछू एक दू दिन ले झाग देखे जात हे। पर्यावरण संरक्षण मंडल के मुताबिक जांच म खारून नदिया के पानी के गुणवत्ता भारतीय मानक के सी श्रेणी के पाय गेहे।
एखर मुताबिक पानी ल पीये जा सकथे। पर्यावरण संरक्षण मंडल के विशेषज्ञ मन ह बताइन कि खारून नदिया के पानी ल साफ बनाये बर रायपुर नगर निगम के अमृत मिशन के तहत चंदनडीह अउ निमोरा म सिवरेज ट्रीटमेंट प्लांट बनाये जात हे। भाटागांव म बने संयंत्र म पाछू महीना ले काम शुरू होगे हे।


कोविड टीका

राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान म देश म अब तक एक सौ अठारा करोड़ अड़तालिस लाख ले जादा कोविड के टीका लगाय गेहे।
उंहें प्रदेश म कोरोना ले बचाव बर अब तक दू करोड़ अंठावन लाख तेइस हजार ले जादा लोगन मन ल कोविड टीका लगाये जा चुके हे। जेमा सत्यासी प्रतिशत लोगन मन ल पहिली टीका अउ पैंतालिस प्रतिशत लोगन मन ल दूनों टीका लगाये जा चुके हे।
एति राज्य म काली कोरोना संक्रमण के उनचालिस ठिन नवा मामला आगू आय हे। ए बेरा तीन सौ पच्चीस मरीज मनके इलाज आने आने अस्पताल या फेर होम आइसोलेशन म चलत हे।


एम्स निदेशक बूस्टर डोज

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान – एम्स नई दिल्ली के निदेशक डॅाक्टर रणदीप गुलेरिया ह कोविड टीकाकरण अभियान के प्रशंसा करत कीहिन कि अभी भारत म बूस्टर डोज के जरूरत नइ हे।
प्रोफेसर बलराम भार्गव के पुस्तक – गोइंग वायरल के विमोचन के मउका म डॅाक्टर गुलेरिया ह कीहिन कि अभी तक कोविड मरीज के संख्या म कोनो प्रकार के बढ़ोत्तरी नइ होय हे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *