कोरोना की रफ्तार एक बार फिर बढ़ने लगी, सतर्क रहने की है जरूरत, फिर से दिनचर्या में शामिल करे मास्क लगाना: डॉ.मीरा बघेल

0 सैनिटाइजर का उपयोग भी है जरूरी, भीड़ भाड़ में जाने से बचें

रायपुर / जिले में कोरोना की रफ्तार अब एक बार फिर बढ़ने लगी है 22 जून को प्रदेश में 131 नए मरीज मिले थ जिसमें सबसे ज्यादा 29 मरीज रायपुर और 21 मरीज दुर्ग में मिले है । 22 जून तक प्रदेश में 585 एक्टिव मरीजों की संख्या हो गई है। हालांकि इसमें राहत की बात यह है अभी संक्रमण के गंभीर मामले नहीं आ रहे हैं।  प्रदेश में पॉजिटिविटी दर 1.39 है। कोरोना का फैलाव जिलों में बढ़ा है । बीते एक सप्ताह से जिले में कोविड-19 का संक्रमण बढ़ रहा है इसलिए बेफिक्र होने से बेहतर है समय रहते सतर्क हो जाएं । लापरवाही बरतना ठीक नहीं हैं, सतर्कता बरतते हुए कोरोना अनुरूप व्यवहारों का पालन करना बहुत जरूरी है । मास्क और सैनिटाइजर को दिनचर्या में शामिल करें ।  भीड़ भाड़ वाली जगह पर जाने से बचें ऐसी जगहो पर मास्क अवश्य पहने ।

इस सम्बन्ध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मीरा बघेल ने बताया : “बीते एक सप्ताह से जिले में 15 से अधिक संक्रमण के केस  निकल रहे हैं। बीते बुधवार को रायपुर में सबसे अधिक 29 केस सामने आए हैं । जिले में 22 जून तक कोविड-19 के संक्रमण से ग्रसित लोगों की संख्या 152 हो गई है। प्राइमरी कॉन्टेक्ट में आए लोग तुरंत जांच करवाए और एतियात रखे। संक्रमण की रफ्तार रोकने और उसकी चेन तोड़ना बहुत जरूरी है। हम लापरवाही को छोड़े और नियमित रूप से जैसा हम पूर्व में शारीरिक दूरी, मास्क और सैनिटाइजर का उपयोग कर रहे थे फिर से करें, क्योंकि कोविड-19 के संक्रमण का खतरा अभी टला नहीं है। किसी भी स्थान को हाथ न लगाएं। लिफ्ट, एटीएम, जैसे सार्वजनिक चीजों का उपयोग करने के बाद हाथ को सैनिटाइज अवश्य करें। “

आगे उन्होनें कहा “भारत सरकार स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग एवं छत्तीसगढ़ शासन स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के निर्देशानुसार जिले में कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम अंतर्गत समस्त स्वास्थ्य कर्मी अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ता एवं 60 वर्ष से अधिक उम्र के हितग्राहियों का जिनके दूसरे डोज़ की अवधि 9 माह पूर्ण हो चुकी है । ऐसे समस्त हितग्राही अपना बूस्टर टीकाकरण का डोज़ अवश्य करवा लें । ताकि वह संक्रमण से प्रतिरक्षित हो सके।“

डॉ. बघेल ने समस्त निजी एवं शासकीय स्वास्थ्य संस्थानों से अपील की है कि वह अपने संस्थान में कार्यरत स्वास्थ्य कर्मियों का बूस्टर डोज़ अवश्य लगवा ले । जिन लोगों के दोनों टीके लग गए हैं वह लोग अपना समय पूर्ण होने पर बूस्टर डोज़ लगवाएं  कोविड के संक्रमण से बचाव का एकमात्र उपाय समय पर टीकाकरण, शारीरिक दूरी, नियमित रूप से मास्क लगाना हाथों को सैनिटाइज करना साथ ही भीड़ भाड़ वाले क्षेत्र से दूरी रखना। यात्रा के दौरान कोविड-19 के नियमों का पालन करना । कोविड-19  संक्रमण के क्षेत्र से वापस आने के बाद कपड़ों को सफाई से धोना और स्वयं सफाई नहाना साथ ही सोने से पहले गर्म पानी से गरगल करना । इम्यूनिटी सिस्टम को बूस्ट अप करने के लिए उचित खानपान करें बाहर खाने से परहेज करें । नियमित व्यायाम करना ।

इन बातों का रखें ध्यान

सर्दी जुकाम होने पर चिकित्सक की सलाह लें, घर से बाहर निकलें तो हमेशा मास्क लगाकर निकले, घरों और अपने आसपास साफ-सफाई का ख्याल जरूर रखें, फ्लू जैसे कोई भी लक्षण हो तो एहतियात बरतें, सैनिटाइजर का प्रयोग करते रहें, संक्रमण के प्रभाव में आए व्यक्ति से मिले हों तो जल्द कोविड जांच करा लें ।